समाचार ब्यूरो
24/02/2022  :  09:25 HH:MM
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने सफदरजंग अस्पताल का दौरा किया, अस्पताल में सुधार उपायों पर विभाग के अध्यक्षों और कर्मचारियों की स्पष्ट प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए उनके साथ अनौपचारिक बातचीत की
Total View  987

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया ने आज सफदरजंग अस्पताल का दौरा किया। उन्होंने सफदरजंग अस्पताल और वर्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज के विभाग के अध्यक्षों व कर्मचारियों के साथ अनौपचारिक बातचीत की। श्री मांडविया ने विभिन्न विभागों के प्रमुखों, नर्सों, सुरक्षा और स्वच्छता सेवाओं के प्रमुखों के साथ ढाई घंटे से अधिक समय तक बात कीं। इस दौरान उन्होंने गुणवत्तापूर्ण अस्पताल प्रबंधन, नैदानिक अभ्यासों, संक्रमण नियंत्रण उपायों, स्वच्छता प्रक्रियाओं और रोगी-केंद्रित उच्च गुणवत्ता स्वास्थ्य देखभाल प्रावधान पर उनके कई सुझावों को धैर्य के साथ सुना। वहीं, डॉक्टर और कर्मियों ने महामारी के दौरान गरीब, जरूरतमंद और वंचितों को चौबीसों घंटे सेवाएं प्रदान करने के लिए काम करने के अपने अनुभव को साझा किया।

डॉ. मनसुख मांडविया ने रोगियों को उच्चतम गुणवत्ता वाली स्वास्थ्य सेवा प्रदान करने के लक्ष्य के साथ कुशल समन्वय के जरिए सर्वश्रेष्ठ परिणाम और प्रदर्शन- उन्मुख कार्य संस्कृति पर जोर दिया। इसके अलावा उन्होंने सभी से आलोचना को स्वीकार करने की सोच उत्पन्न करने और साझा लक्ष्यों, उद्देश्यों व कार्य संस्कृति के जरिए संस्थागत निर्माण की दिशा में काम करने का आग्रह किया। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, “हमारा लक्ष्य यह होना चाहिए कि अस्पताल आने वाले हर एक रोगी को सर्वश्रेष्ठ स्वास्थ्य सेवा कैसे प्रदान की जाए। जब हम इस लक्ष्य और अपनी परिणामी भूमिका पर स्पष्टता रखते हैं, तो हमारे सभी कार्य भी स्पष्ट व कार्योन्मुखी हो जाएंगे।”

डॉ. मांडविया ने सभी स्तरों पर काम के खराब स्तर को लेकर जीरो टॉलरेंस अपनाने का सख्त संदेश दिया। उन्होंने जोर देकर कहा, "किसी को भी यह महसूस नहीं होना चाहिए कि कार्य से अनुपस्थित रहने और खराब प्रदर्शन पर किसी का ध्यान नहीं जाएगा।” केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि कार्य से अनुपस्थिति और खराब गुणवत्ता वाले काम को प्रभावी ढंग से किया जा सके, सभी विभाग अध्यक्षों से सुरक्षा व संविदा कर्मचारियों सहित सभी स्तरों पर कर्मचारियों के प्रदर्शन और उपस्थिति का मूल्यांकन करने का आह्वाहन किया। उन्होंने हर एक विभाग की टीमों को न केवल बेहतर लक्ष्य प्राप्त करने बल्कि, उच्च प्रदर्शन मानकों को बनाए रखने के लिए प्रोत्साहित किया। उन्होंने आगे कहा, "थोड़े समय के लिए बहुत उच्च प्रदर्शन प्राप्त करना आसान है, लेकिन स्वास्थ्य सेवा वितरण के ऐसे अनुकरणीय मानकों को निरंतर बनाए रखना काफी मुश्किल है।"

डॉ. मांडविया ने सफदरजंग अस्पताल को उच्चतम गुणवत्ता वाले एक उच्च प्रतिष्ठित अस्पताल में रूपांतरित करने की दिशा में सभी टीमों को काम करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने आगे कहा, “मंत्रालय अस्पताल के सभी प्रयासों में इसकी सहायता करने के लिए प्रतिबद्ध है।"







Related Links :-
कोविड-19 पर पीआईबी का बुलेटिन
कोविड-19 पर पीआईबी का बुलेटिन
डॉ मनसुख मंडाविया ने भारत के कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम पर प्रकाश डालने वाले प्रतिस्पर्धात्मकता संस्थान की रिपोर्ट जारी की
उपराष्ट्रपति ने अच्छे स्वास्थ्य और बेहतर रहन-सहन के लिए शुद्ध पेयजल और स्वच्छता के महत्व पर ज़ोर दिया
राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के पास कोविड-19 टीके की उपलब्‍धता
कोविड-19 टीकाकरण पर अपडेट- 403वां दिन
राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के पास कोविड-19 टीके की उपलब्‍धता
निशुल्क स्वास्थ्य एवं नेत्र जांच शिविर लगाया
कोविड-19 अपडेट
राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के पास कोविड-19 टीके की उपलब्‍धता